सोमवार, 20 मई 2013

हाइकू -ठंडी धूप बिटिया

हाइकू -ठंडी धूप  बिटिया
Indian_bride : a little girl is in the national Indian suit
                           


 नन्ही  सी परी
आँगन में उतरी
खुशियाँ भरी


Indian_bride : a little girl is in the national Indian suit  

मीठी  सी बोली 
लगता चहकना 
गुड की गोली !


Indian_bride : little girl in the national Indian suit with a dog Stock Photo  

ये मटकती 
ठुमक ठुमक के  
ये है चलती



Indian_bride : a little girl is in the national Indian suit  


भोली राधिका 
शक्ति रूप में यही 
भई अम्बिका !

Indian_bride : a little girl is in the national Indian suit  


ठंडी ये धूप 
बिटिया गौरी-काली 
देवी स्वरुप !



Indian_bride : a little girl is in the national Indian suit   

सत्य को जान 
बिटिया वरदान 
दे उसे मान !


Indian_bride : a little girl is in the national Indian suit  

बात है छोटी 
दोनों से परिवार 
बेटा व् बेटी !


Indian_bride : a little girl is in the national Indian suit  

 नोंच न देना 
गुलाब की कलियाँ  
प्रण है लेना !
Indian_bride : a little girl is in the national Indian suit


बेटी न मार 
सब पर लुटाती
नेह अपार ! 


शिखा कौशिक 'नूतन'




12 टिप्‍पणियां:

शालिनी कौशिक ने कहा…

.बहुत सुन्दर प्रस्तुति.मन को छू गयी .आभार . बाबूजी शुभ स्वप्न किसी से कहियो मत ...[..एक लघु कथा ]

साथ ही जानिए संपत्ति के अधिकार का इतिहास संपत्ति का अधिकार -3महिलाओं के लिए अनोखी शुरुआत आज ही जुड़ेंWOMAN ABOUT MAN

दिगम्बर नासवा ने कहा…

बहुत सुन्दर हाइकू ...
तुकांत हाइकू का अपना ही मज़ा है ... सार्थक ...

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

समस्त हाइकू अति सुंदरतम भाव लिये हुये, चित्र भी बहुत ही नयनाभिराम लगाये जो शब्दों को ऊंचाई दे रहे हैं, बहुत शुभकामनाएं.

रामराम.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बुधवार (22-05-2013) कितनी कटुता लिखे .......हर तरफ बबाल ही बबाल --- बुधवारीय चर्चा -1252
में "मयंक का कोना"
पर भी है!
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बुधवार (22-05-2013) कितनी कटुता लिखे .......हर तरफ बबाल ही बबाल --- बुधवारीय चर्चा -1252
में "मयंक का कोना"
पर भी है!
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Ranjana Verma ने कहा…

प्यारी सी रचना दिल को छु गयी ...

Ranjana Verma ने कहा…

प्यारी सी रचना दिल को छु गयी ....

Ranjana Verma ने कहा…

प्यारी सी रचना दिल को छु गयी ....

shyam Gupta ने कहा…

क्या बात है...शानदार समोसे-कविता .... ये मोडलिंग किसने की है जी....

रश्मि शर्मा ने कहा…

शानदार हायकू..

shikha kaushik ने कहा…

THANKS A LOT EVERYONE

अरुणा ने कहा…

सुन्दर हाइकु