शुक्रवार, 13 अप्रैल 2012

ये भारतीय मूल्यों की जीत है !

[गूगल से साभार ]
ये न हमारी जीत है और न डॉ.ओ.पी.वर्मा जी की हार  ...ये हम सभी को दिए  गए  संस्कारों  की जीत है .ये भारतीय  मूल्यों  की जीत है .हमने डॉ.साहब की एक पोस्ट '' माया बाई का मुजरा'' पर आपत्ति  की और उन्होंने इसे हटा  दिया .गलती हम सभी से होती  है .ऐसा नहीं है कि मैं कोई गलती नहीं करूंगी ..जरूरी  है आप सभी मुझे सही मार्ग दिखाएँ  और मैं उसे  सुधार लूं .मैं डॉ. साहब के ब्लॉग - जगत में उज्जवल भविष्य की कामना करती हूँ .
                                                     शिखा कौशिक 

8 टिप्‍पणियां:

डा. अरुणा कपूर. ने कहा…

सही में यह भारतीय मूल्यों की ही जीत है!...आभार!बैशाखी की शुभकामनाएं!

रविकर फैजाबादी ने कहा…

बधाई ।

शिखा कौशिक ने कहा…

aruna ji v ravikar ji hardik dhanyvad .baisakhi ki hardik shubhkamnayen !

शालिनी कौशिक ने कहा…

blog jagat me ek achchhi pahal.badhai aur aabhar shikha ji आभार.i.मंज़िल पास आएगी.

अरुण कुमार निगम (mitanigoth2.blogspot.com) ने कहा…

बधाई........

dinesh gautam ने कहा…

क्या बात है शिखा जी ! अच्छा लगा आपकी पोस्ट पर आकर, वाकई सार्थक विचार!

DINESH PAREEK ने कहा…

आपकी सभी प्रस्तुतियां संग्रहणीय हैं। .बेहतरीन पोस्ट .
मेरा मनोबल बढ़ाने के लिए के लिए
अपना कीमती समय निकाल कर मेरी नई पोस्ट मेरा नसीब जरुर आये
दिनेश पारीक
http://dineshpareek19.blogspot.in/2012/04/blog-post.html

शिखा कौशिक ने कहा…

dinesh ji hardik dhnyvad .

LIKE THIS PAGE AND WISH INDIAN HOCKEY TEAM FOR LONDON OLYMPIC