शुक्रवार, 27 सितंबर 2013

ये मामला केवल फेसबुक तक सीमित नहीं

फेसबुक पर यह पढ़ा-




इस लड़की का नाम है सुष्मिता।



इसने फेसबुक पर फोटो अपलोड किया था।

किसी लड़के ने इसका फोटो सेव करके गूगल में

इसका प्रोफाइल दाल कर कॉल गर्ल की लिस्ट में डाल

दिया।

ये लड़की बहुत अच्छे परिवार की थी।

उस लड़के ने पूरे शहर में फैला दिया की ये एक कॉल

गर्ल है।

जब उस लड़की और उसके परिवार को पता चला तो पूरे

परिवार ने सामूहिक आत्महत्या कर ली।

दोस्तों ये है फेसबुक की दुनिया।

अब आप ही बताएं इसका क्या उपाय

किया जा सकता है?

सभी बहनों से हाथ जोड़ कर नम्र निवेदन है

की कृप्या अपनी फोटो फेसबुक से त्वरित हटायें।



पहले बहुत दुःख हुआ पर फिर गुस्सा आया .सुष्मिता के परिवार ने गलत कदम उठाया .ये मामला केवल फेसबुक तक सीमित नहीं है .आज तक हजारों लड़कियों ने बदनामी के डर से आत्महत्या कर डाली है पर हमारा समाज नहीं सुधरा .अब जरूरत है ऐसे गंदे लोगों का सामना डट कर करने का .गलत जानकारी देकर तो कोई भी ,कहीं से किसी भी महिला के फोटो को अपलोड कर बदमान कर सकता है ...पर इसका मतलब ये तो नहीं कि आत्महत्या कर ऐसे अपराधियों को बढ़ावा दिया जाये .जिसने ऐसा गन्दा काम किया है उसे पूरे समाज व् देश के सामने लाकर उसको उचित दंड दिलाना ही सही रास्ता है .



शिखा कौशिक 'नूतन '

4 टिप्‍पणियां:

02shalinikaushik ने कहा…

agree with you

Darshan jangra ने कहा…

आपकी पोस्ट हिंदी ब्लॉग समूह में सामिल की गयी और आप की इस प्रविष्टि की चर्चा कल - रविवार - 29/09/2013 को
क्या बदला?
- हिंदी ब्लॉग समूह चर्चा-अंकः25
पर लिंक की गयी है , ताकि अधिक से अधिक लोग आपकी रचना पढ़ सकें . कृपया पधारें, सादर .... Darshan jangra


पूरण खण्डेलवाल ने कहा…

ये इंटरनेट की आभासी दुनिया है यहाँ पर हर किसी को अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए !!

राजीव कुमार झा ने कहा…

ये इंटरनेट की आभासी दुनिया है यहाँ पर हर किसी को अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए.
नई पोस्ट : भारतीय संस्कृति और कमल