शनिवार, 23 मार्च 2013

'इतनी पुरानी औरत से कौन करेगा रेप'

'इतनी पुरानी औरत से कौन करेगा रेप'

Updated on: Sat, 23 Mar 2013 08:04 AM (IST)
Who dare to rape so old woman: ACP
'इतनी पुरानी औरत से कौन करेगा रेप'
देवरिया [जागरण संवाददाता]। देश में महिलाओं के सम्मान को लेकर छिड़ी बहस के बीच देवरिया के अपर पुलिस अधीक्षक की एक टिप्पणी ने रेप की नई परिभाषा गढ़ दी है। शुक्रवार को रेप का मुकदमा दर्ज कराने की फरियाद लेकर पहुंची एक महिला को राहत देने की बजाय उन्होंने सार्वजनिक रूप से यह टिप्पणी करके सनसनी फैला दी कि 'इतनी पुरानी औरत से कौन रेप करेगा।' उनकी इस टिप्पणी पर तीखी प्रतिक्रियाएं हो रही हैं। विभिन्न राजनीतिक दलों एवं महिला संगठनों ने इसे महिलाओं का अपमान करार देते हुए उन्हें निलंबित करने की मांग की है।
बनकटा थाना क्षेत्र के दलन छपरा गांव की एक विवाहिता के साथ गांव के ही एक युवक ने रेप किया। इस मामले में प्राथमिकी दर्ज न किए जाने से दुखी महिला पति के साथ मंगलवार को अपर पुलिस अधीक्षक केशव चंद्र गोस्वामी से मिलने पहुंची। गोस्वामी महिला से मिले तो जरूर लेकिन रेप की घटना को उन्होंने झुठला दिया। उन्होंने महिला के साथ आए परिवारीजन से पूछा कि उसकी शादी कितने साल पहले हुई? उसके कितने बच्चे हैं? पंद्रह साल पहले शादी होने का जवाब मिलने पर उन्होंने तपाक से टिप्पणी कर दी कि 'इतनी पुरानी औरत के साथ कौन रेप करेगा।' उनकी यह टिप्पणी सुन पीड़िता के परिवारीजन व पत्रकारों के अलावा वहां मौजूद लोग दंग रह गए। बाद में गोस्वामी के बयान पर बवाल मच गया। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ममता शर्मा ने नाराजगी व्यक्त की। जिले के एसपी उमेश कुमार श्रीवास्तव ने बयान के लिए स्पष्टीकरण मांगा है।
विवाद बढ़ता देख पुलिस ने आनन-फानन शुक्रवार शाम को बनकटा थाने में महिला के साथ रेप के बजाय छेड़खानी का मुकदमा दर्ज कर लिया। हालांकि किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है।
एएसपी पर होगी कार्रवाई: एसपी
अपर पुलिस अधीक्षक के बयान को लेकर हंगामा होने की जानकारी मिलने पर पुलिस के उच्चाधिकारी सक्रिय हो गए हैं। पुलिस अधीक्षक उमेश कुमार श्रीवास्तव ने एएसपी को पत्र लिखकर बयान पर स्पष्टीकरण मांगा है। उन्होंने कहा कि उनके बयान के बारे में अलग से जांच की जा रही है। उन्होंने जो कहा है यदि वह सच मिला तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
डीजीपी ने मांगी माफी
लखनऊ। रेप के मामले में पीड़ित महिला से देवरिया के एएसपी केसी गोस्वामी द्वारा अशोभनीय टिप्पणी किए जाने पर डीजीपी एसी शर्मा ने खेद जताते हुए माफी मांगी है। डीजीपी ने आरोपी एएसपी से दो दिनों के भीतर उनका स्पष्टीकरण तलब किया है। आइजी कानून-व्यवस्था आरके विश्वकर्मा ने बताया कि पीड़ित महिला की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। वहीं एसपी देवरिया को मामले की जांच सौंपी गई है। उन्होंने कहा कि सीओ से पदोन्नत होकर एएसपी बने अधिकारियों को जनता से बातचीत करने का तरीका भी सिखाया जाएगा।
[दैनिक जागरण से साभार ]
    अब तो भगवान् ही बताये कि कौन है ऐसी कुत्सित घटनाओं का जिम्मेदार ]
                    शालिनी कौशिक 

6 टिप्‍पणियां:

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) ने कहा…

प्रभावशाली ,
जारी रहें।

शुभकामना !!!

आर्यावर्त

आर्यावर्त में समाचार और आलेख प्रकाशन के लिए सीधे संपादक को editor.aaryaavart@gmail.com पर मेल करें।

Pratibha Verma ने कहा…

बहुत ही शर्म की बात है की हमारी कानून व्यवस्था ऐसी है ...

पधारें "चाँद से करती हूँ बातें "

उपासना सियाग ने कहा…

behad sharm naak

vishvnath ने कहा…

ये हजारो सालो पुरानी सामंतवादी सोच का परिणाम है ...की जैसे बलात्कार करने की कटेगरी बना राखी है लोगो ने दिमाग में .
पुलिस विभाग को मोराल ट्रेनिंग मिलनी बहुत जरूरी है

धन्यवाद आपने इसे यहाँ प्रकाशित करा।
लोगो को पढना और सोचना जरुरी है इसे

RAHUL- DIL SE........ ने कहा…

उस व्यवस्था में ऐसे लोगों की कमी नहीं ... ये सिर्फ मर्यादा को कलंकित करना जानते हैं....

डॉ शिखा कौशिक ''नूतन '' ने कहा…

sarthak prastuti .aabhar