बुधवार, 16 सितंबर 2015

सख्त लहज़े में कहा शौहर ने बीवी से



सख्त लहज़े में कहा शौहर ने बीवी से देखो लियाकत में तुम्हे रहना होगा ,
तुम्हारी हद है मेरे मकान की चौखट अब इसी हद में तुम्हे रहना होगा !


मिला  ऊँचा रुतबा मर्द को औरत से बात दीनी ही नहीं दुनियावी भी ,
मुझको मालिक खुद को समझना बांदी झुककर मेरे आगे तुम्हे रहना होगा !


है मुझे हक मैं करूं शौक पूरे अपने तुम्हे बस फ़र्ज़ ही निभाने हैं ,
ज़ुल्म न कहना  ये ही होता आया  इन्ही पाबंदियों में तुम्हे रहना होगा !


नीची आवाज़ में करनी होगी बातें नज़रें झुकाकर सामने आना ,
शरीक-ए-हयात का दर्ज़ा अगर पाना है कुर्बान खुद को करके तुम्हे रहना होगा !


बेग़म मुझे बेपर्दगी से है नफरत ढककर रखना खुद को ज़माने से ,
बिना मेरे वजूद न  तेरा जान लो 'नूतन' हकीकत में तुम्हे रहना होगा !


शिखा कौशिक 'नूतन'

2 टिप्‍पणियां:

GathaEditor Onlinegatha ने कहा…

publish ebook with onlinegatha, get 85% Huge royalty,send Abstract today
Ebook Publisher

GathaEditor Onlinegatha ने कहा…

publish ebook with onlinegatha, get 85% Huge royalty,send Abstract today
Ebook Publisher